मैं सेफोलॉजिस्ट बनूँगा

हम बनना कुछ और चाहते हैं, बन कुछ और जाते हैं. हम ड्रीम पालते हैं, पैशन को सेलिब्रेट करते हैं पर दाल रोटी के लिए कहीं और...

उँची स्कर्ट या नीची सोच

तुम लड़की हो, तुम्हें ऐसे छोटे कपड़े पहनकर बाहर नहीं जाना चाहिए...तुम्हें देर रात तक यूं लकड़ों के साथ बाहर नहीं जाना चाहिए...तुम्हें पार्टी नहीं करनी चाहिए......

स्मृति शब्द चित्र : स्व. नगनारायण दुबे

रविवार की एक दोपहर अचानक पंड़ित जी याद आ गये और उनकी स्मृति में मैं एक शब्द चित्र बनाने लगा. यकीन करिए - यहाँ वर्णित घटनाएँ घटित...

अंकित और अंकिता

वे दोनों पहली बार नौ नवम्बर को एटीएम के बाहर मिले. चार घण्टे लाइन में रहे लेकिन उनका नम्बर आने से पहले पैसे खत्म हो गये. लड़की...